भारत में आधार कार्ड के बिना कोनसी सेवाओं का उपयोग नहीं किया जा सकता।

भारत में आधार कार्ड के बिना कोनसी सेवाओं का उपयोग नहीं किया जा सकता।

वर्तमान मोदी सरकार ने भ्रष्टाचार के खात्मे के लिए अपनी प्रतिबद्धता जाहिर करते हुए जोरदार पहल करते हुए सामान्य लोगों की रोजमर्रा की जिंदगी से जुडी 6 सेवाओं
जैसे ड्राइविंग लाइसेंस, पैन कार्ड, एलपीजी कनेक्‍शन, इनकम टैक्‍स रिटर्न, रेलवे टिकट बुकिंग और पासपोर्ट को 1 जुलाई से आधार कार्ड से जोड़ने का फैसला किया है l भारत में आधार कार्ड पहचान संख्या को बहुत ही विश्वसनीय माना जाता है और इसी कारण इस 12 अंकों वाली सख्या की तारीफ विश्व के बड़े-बड़े अर्थशास्त्री कर चुके हैं l इन 6 सेवाओं के आधार कार्ड से जुड़ने का सबसे बड़ा फायदा यह होगा कि सरकार द्वारा भेजा गया पैसा सीधे जरुरतमंद तक ही पहुंचेगा, कर चोरी पर प्रतिबन्ध लगेगा और भ्रष्टाचार पर बहुत हद तक लगाम लगेगी

1. ड्राइविंग लाइसेंस के लिए होगा जरूरी:

वर्तमान व्यवस्था में यह होता है कि एक व्यक्ति देश के विभिन्न स्थानों से कई ड्राइविंग लाइसेंस बनवा लेता है l नये नियम के आने के बाद इस प्रथा पर रोक लग जायेगी क्योंकि केंद्र राज्यों से ड्राइविंग लाइसेंस बनाते समय लोगों से आधार कार्ड नंबर बताने को कहेगा और इस प्रकार आधार कार्ड के कारण एक व्यक्ति के पास केवल एक ही ड्राइविंग लाइसेंस होगाl पुराने कार्ड को नया बनाने (renew) करवाने के लिए भी आधार संख्या बताना जरूरी होगा l



2. पैन कार्ड बनवाने के लिए:

अभी लोग नकली दस्तावेजों की मदद से एक से अधिक पैन कार्ड बनवा लेते हैं जिसके कारण सरकार लोगों की आय का सही अनुमान नही लगा पाती हैl लेकिन अब 1 जुलाई से पैन कार्ड लेने के लिए भी आधार नंबर देना अनिवार्य होगा, नहीं तो आप पैन कार्ड नहीं ले पाएंगे। अगर आधार कार्ड नहीं है तो आधारकार्ड के लिए एनरॉलमेंट आईडी (enrolment ID) देना जरूरी होगा।


3. एलपीजी कनेक्‍शन के लिए

अब फ्री में दी जाने वाली रसोई गैस कनेक्‍शन (LPG) के लिए भी आधार नंबर 1 जुलाई से अनिवार्य होगा। इस उपाय को करने के पीछे मुख्य उद्येश्य गैस सब्सिडी का दुरूपयोग और कालाबाजारी रोकना हैl अब होटलों आदि में सब्सिडी वाले सिलेंडरों का प्रयोग करना रुक जायेगा l




4. इनकम टैक्‍स रिटर्न के लिए:

अभी लोग दो या उससे भी अधिक पेन कार्ड रखते हैं जिसके कारण सरकार को उनको सही आय का अनुमान नही हो पाता है और लोग कर चोरी करने में सफल हो जाते हैं lलेकिन सरकार ने 1 जुलाई से वित्तीय वर्ष 2017-18 का रिटर्न फाइल करने के लिए आधार कार्ड का जरूरी बना दिया है। इसके लिए आपको अपने पैन कार्ड को आधार से लिंक करना भी जरूरी होगा। अगर आपके पास आधार कार्ड नहीं है, तो 1 जुलाई के बाद इनकम टैक्‍स रिटर्न आप नहीं फाइल कर पाएंगे।



5. रेलवे टिकट बुकिंग के लिए:

अभी की व्यवस्था में लोग (खासकर ट्रेवल एजेंट) कई टिकट बुक कर लेते हैं और फिर उनको बढ़े हुए दामों पर बेचकर भारी मुनाफा कमाते हैं लेकिन अब सरकार इस घपले के खिलाफ तैयारी कर चुकी है और रेलवे ने 1 जुलाई से रियायती या गैर-रियायती रेल टिकट बुक करने के लिए आधार नंबर को डालना अनिवार्य कर दिया है।


6. पासपोर्ट बनवाने के लिए

आतंकबाद और अन्य देश विरोधी गतिविधियों को ध्यान में रखत हुए सरकार ने अब पासपोर्ट बनवाने के लिए आधार को अन्य जरूरी कागजातों की तरह जमा कराना अनिवार्य कर दिया हैl यदि आपके पास आधार कार्ड नही है तो आप विदेश जाने की बात भूल ही जाइये l


इस ऊपर दिए गए उपायों से यह उम्मीद की जाती है कि वर्तमान सरकार भ्रष्टाचार को ख़त्म करने के अपने वादे को पूरा करने में सफल हो सकती है 

Post a Comment

0 Comments